24 October, 2008

पंकज अवधिया जी जैसे हजारों-लाखों होंगे हमारे देश में

पंकज अवधिया जी को पता नहीं क्या जवाब मिलेगा उनके प्रश्न का लेकिन मेरे मन में एक बात आयी कि ऐसे ही पता नहीं कितने ही लोग मन मसोस कर रह जाते होंगे या जी भर कर गालियाँ देते होंगे मोबाइल कंपनियों को। मेरा भी यही अनुभव रहा है इन्हीं 9827019909, 9827019900, 9827019902, 9827019907, 9827019905, 9827023514 नंबरों का। जो यहाँ छत्तीसगढ़ में Smart के नाम से चल रहे रिलायंस कम्युनिकेशन के GSM नेटवर्क के नम्बर हैं।

कानूनी पचड़ों में पड़ने से बेहतर है कि अपना बचाव खुद ही किया जाये। इसी सिलसिले में, मैं अपने Reliance GSM नेटवर्क के Smart कनेक्शन वाले के लिये भारत में अजंता घड़ी बनाने वालों की ओर से प्रस्तुत किये गये एक मोबाईल का इस्तेमाल कर रहा हूँ। जिसका मॉडल नम्बर A-1900 है और जुलाई 2008 में कीमत , दुकानदार ने मात्र 1500 रूपये लगायी थी। इसकी एक खूबी से तो मैं पूर्णतया: संतुष्ट हूँ। खूबी यह है कि इस हैण्डसेट का उपयोग करते हुये, आने वाली कॉल्स के अधिकतम 10 नम्बरों को काली सूची (Blacklist) में डाला जा सकता है।

जिन नम्बरों को कालीसूची में डाला गया है, यदि वे आपको कॉल करेंगे तो उन्हें लगभग Busy tone से मिलती-जुलती आवाज़ सुनायी देगी, चाहे जितनी बार भी कॉल आये। आपको आभास भी नहीं होगा कि किसी की कॉल आयी भी है। हाँ, बाद में एक नज़र डालते ही पता चल जाता है कि किसकी कॉल bounce हुयी थी। ज़रूरत पड़े तो किसी भी नम्बर को काली सूची से कभी भी हटाया जा सकता है, किसी दूसरे नम्बर को जोड़ा जा सकता है। मैनें उपरोक्त वर्णित सभी नम्बरों को Black listed किया हुया है और शान्ति से इस मोबाईल का इस्तेमाल जारी रखे हुये हूँ।

ये बात तो थी एक entry level mobile की। अपने BSNL नम्बर पर, मैं O2 Mini ब्राण्ड का Pocket PC उपयोग में लाता हूँ। इसमें एक 100-175 KB का Software मेरे सुपुत्र द्वारा स्थापित किया गया है, जिसका नाम ही SmartBlock है। उसकी खूबियों में: खास समयावधि में या हमेशा के लिये चाहे-अनचाहे कॉल्स SMS को Blacklist करना, मीटिंग मोड में रखे जाने पर खुद ही SMS कर कॉल करने वाले को सन्देश भेजना, ब्लॉक किये गये सभी SMS कॉल का इतिहास रखना, wildcard नम्बरों का समर्थन- जैसे 022*- मुम्बई से आने वाली सभी कॉल को रोकना शामिल है। इस Software की बदौलत मैं कितने ही Telemarketing जैसी कॉल SMS से बचा हुया हूँ। Software की स्थापना विधि के लिये यह pdf देखी जा सकती है।

पंकज जी भले ही किसी अदालती कार्यवाही की सोच रहे हों। लेकिन मुझ जैसा अज्ञानी तो यही सोचता है कि बचाव ही इलाज है।

4 comments:

PD said...

vaah.. bahut badhiya aur nayi jaankari mere liye..
Thanks.. :) main aaj hi vo software install karta hun..

Anonymous said...

पंकज अवधिया जी
ko apna naam heading mae achchaa nahin lagta haen . aap p[ar mukdma karsaktey haen ek baar is par kafi vivaad ho chuka haen link daekhae '

http://masijeevi.blogspot.com/2008/02/blog-post_16.html

पंकज अवधिया Pankaj Oudhia said...

ज्ञान जी,


बहुत-बहुत आभार इस मार्गदर्शन के लिये। मै अभी ही इसे अपनाने की कोशिश करता हूँ। आशा है भविष्य़ मे भी ऐसा ही मार्गदर्शन आपसे मिलता रहेगा।

ज्ञान said...

पंकज जी,
ज़र्रानवाज़ी का शुक्रिया।

इस अनामी ने तो मुझे डरा ही दिया था:-)